जुगलबन्दी… नज़रों और ज़ुबान की/ Entwining… Of eyes and lips

समुन्दर सी गहराइयाँ थी
आँखों में उसकी
मीठी सी मुस्कान लबों पर/
There was a deepness of ocean
In her eyes
A sweet smile on her lips Continue reading जुगलबन्दी… नज़रों और ज़ुबान की/ Entwining… Of eyes and lips